IZZAT KHUDA KI FATIMA LYRICS

0
7

Song Details: Izzat Khuda Ki Fatima Lyrics

Izzat Khuda Ki Fatima Lyrics

इज्ज़त खुदा की फातिमा बिन्ते नबी बतुल है
इज्ज़त खुदा की फातिमा बिन्ते नबी बतुल है
वो जिसके एहतराम में
वो जिसके एहतराम में दर पे खड़े रुसूल है
बिन्ते नबी बतुल है
इज्ज़त खुदा की फातिमा बिन्ते नबी बतुल है

सजदे करे हज़ार तू दिल में बुक्ज-ए-फातिमा
सजदे करे हज़ार तू दिल में बुक्ज-ए-फातिमा
दिल में बुक्ज-ए-फातिमा
जन्नत में तू भी जायेगा ये सोच ना फुजूल है
वो जिसके एहतराम में
वो जिसके एहतराम में दर पे खड़े रुसूल है
बिन्ते नबी बतुल है
इज्ज़त खुदा की फातिमा बिन्ते नबी बतुल है

है जो बिना-ए-लाएला खैरुन निशा का लाला है
है जो बिना-ए-लाएला खैरुन निशा का लाला है
खैरुन निशा का लाला है
जिसके लिए नबी दिया सजदे को रहने तुल है
वो जिसके एहतराम में
वो जिसके एहतराम में दर पे खड़े रुसूल है
बिन्ते नबी बतुल है
इज्ज़त खुदा की फातिमा बिन्ते नबी बतुल है

हर सह दो जहां की उनको जहेज में मिली
हर सह दो जहां की उनको जहेज में मिली
उनको जहेज में मिली
मुझको कसम खुदा की थी दक उनके कदम की धुल है
वो जिसके एहतराम में
वो जिसके एहतराम में दर पे खड़े रुसूल है
बिन्ते नबी बतुल है
इज्ज़त खुदा की फातिमा बिन्ते नबी बतुल है
इज्ज़त खुदा की फातिमा बिन्ते नबी बतुल है

Izzat Khuda Ki Fatima Lyrics Video Song

This is the end of Izzat Khuda Ki Fatima Lyrics.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here